गरीबी


गरीबी क्या  है?
कुछ भी तो नहीं
जो लोग जो गरीबी
 की रेखा के नीचे है,
वो भारत शब्द का इस्तेमाल
करता है
और जो बुदीजीवी है
वो इंडिया का
क्या बात  है,
कुछ लोग अन्न के लिए
तड़पते है
और नेता कहते  है,
गरीबी खत्म
पर गरीबी खत्म कहने
पर वो अपनी रोटी कैसे सकेंगे
बस एक आश्वाशन पर
सबको  टहलाया करेंगे 

टिप्पणियाँ

girish pankaj ने कहा…
सुंदर-प्यारी कविता. संभावनाओं से भरी हुयी.
बेहतरीन कविता


सादर

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नया साल नयी आशा