मंगलवार, 28 फ़रवरी 2017

शादी

   शादी कितनी अच्छी होती है
सात फेरो का बंधन, सात बचन का महत्व
पर आज शादी  क्या हो गयी है?
शादी हुई नहीं की बीबी पति को अपने साथ रखना चाहती है
शादी का मतलब सिर्फ मौज मस्ती रह गया है
बड़ो का लिहाज़ रह नहीं गया
क्या हो गया है आज सबको
शादी के बाद लोग थोड़े दिन तो सही रहते है
फिर सबके अहम् टकराने लगते है
आज कल की लडकिया भी काम करना चाहती है
दोनों लोगो का अहम् जब टकराता है
तो मामला गड़बड़ हो जाता है
शादी का लड्डू जो खाये पछताए
जो न खाये पछताए
शादी मन का रिश्ता है
जिसे प्रेम से निभाना होता है
-गरिमा 

कोई टिप्पणी नहीं: