शनिवार, 29 अगस्त 2015

राखी की मिठास

आया राखी  त्यौहार
छाया हर तरफ उल्लास
सभी बहनें हाथ में लेकर
तैयार है भाई को बांधने के लिए
नग लगी राखी,
या हो रेशम की डोरी
प्यार और स्नेह से
भाई के मस्तक पर रोली लगाती
 अपने जीवन  को बचाने का प्रण हुई
पर आज वो दिन है  कहा
सब व्यस्त है अपने जीवन में
भाई बहन का प्यार  है अनमोल,
भाई चाहे जितनी दूर हो
 बहन  उसके लिए मंगलकामना करती है
राखी का  त्यौहार है बहुत प्यारा
सभी भाई को यही मेरी सलाह
 बहन को बहन की तरह प्यार करे
उनका सम्मान करे