मंगलवार, 26 मार्च 2013

प्यार भरी होली

होली का त्यौहार है
रंगों की भरमार है
सभी डूबे है   मस्ती में
होली है भाई होली है,
बीच  सड़क में  टोली है
सब झूम  रहे है
खाके भांग,
 क्या बच्चे क्या बूढ़े
सब डूबे है रंगों में
क्या  नेता  क्या अभिनेता
हर तरफ है प्यार का रंग
नफरत की कही जगह नहीं,
ये होली का त्यौहार ऐसे ही
बिखेरता रहे अपना प्यार का रंग 

5 टिप्‍पणियां:

Yashwant Mathur ने कहा…

होली का पर्व आपको सपरिवार शुभ और मंगलमय हो!
-------------------------------------


कल दिनांक28/03/2013 को आपकी यह पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपकी प्रतिक्रिया का स्वागत है .
धन्यवाद!

sushma 'आहुति' ने कहा…

बहुत ही गहरे रंगों और सुन्दर भावो को रचना में सजाया है आपने.....

India Darpan ने कहा…

बहुत ही शानदार और सराहनीय प्रस्तुति....
बधाई

इंडिया दर्पण
पर भी पधारेँ।
*प्यार भरी होली*
शुभकामनायें !!

Madan Mohan Saxena ने कहा…



बहुत खूब .सुन्दर प्रस्तुति. आपको होली की हार्दिक शुभ कामना .



ना शिकबा अब रहे कोई ,ना ही दुश्मनी पनपे गले अब मिल भी जाओं सब, कि आयी आज होली है
प्रियतम क्या प्रिय क्या अब सभी रंगने को आतुर हैं हम भी बोले होली है तुम भी बोलो होली है .

दिगम्बर नासवा ने कहा…

होली के पर्व को सुंदरता से लिखा है ...